Tuesday, May 26, 2020

राजस्थान आदिवासी महासभा ,उदयपुर कोरेना वायरस ,,की रोकथाम को लेकर बैठक सम्पन्न

उदयपुर/डूंगरपुर 26 अप्रेल।हरिप्रकाश डामोर✍️

राजस्थान आदिवासी महासभा ,उदयपुर  के अध्यक्ष और वरिष्ठ उपाध्यक्ष के मार्गदर्शन में कोरोना वायरस ,,की बीमारी को आदिवासी समुदाय में रोकथाम के लिए एक मीटिंग का आयोजन हुआ,,,

बैठकमें इस  प्रस्ताव पर सहमती  बनी कि ग्रामीण क्षेत्र में जहाँ नरेगा श्रमिक कार्य कर रहे है उनको मास्क लगाना, सोसिअल डिस्टेंस,, गुटका नहीं खाने,,आदि के बारे जानकारी ,नरेगा कार्यस्थल पर जा कर दी जावे,,,ओर महिला श्रमिक वर्ग को सेनिटरी पैड्स,की निशुल्क सप्लाई की जावे,,,,इस कार्यक्रम के प्रथम चरण में महासचिव श्री सोमेश्वर मीणा,, उपाध्यक्ष श्री सी एल परमार ,,संगठन सचिव श्री नारायण जी डामोर की टीम ने आज दिनांक26,5,20,,,को गिर्वा क्षेत्र के विभिन्न ग्राम पंचायतों का दौरा किया,सबसे पहले प्रातः 8 बजे ग्राम पंचायत बारां, के सरपंच श्री हरीश जी मीणा के साथ करीब दो तीन किलोमीटर दूर पहाड़ों में मेड़बंदी कार्य कर रहे नरेगा श्रमिको से मिले जिसमे करीब ,80 श्रमिक मिले,, उनको बीमारी की जानकारी दी तथा मास्क वितरण किये,,उसके बाद पडूना पंचायत के सरपंच केसु लाल जी के साथ मास्क वितरण किये,इसके बाद ग्राम पंचायत बारा पाल के सरपंच श्री राकेश जी कटारा के साथ श्रमीको को मास्क वितरण किये,,,इसके बाद बारा पाल के गमेती श्री देवी लाल जी के साथ ग्रामीण भाइयो को मास्क वितरित किये,,

Friday, May 22, 2020

ग्रामपंचायत माडा में मेडिकल टीम ने घर-घर जाकर की स्क्रीनिंग!

ख़बरINDIAतक से अभिषेक मोडिया की रिपोर्ट✍️
ग्राम पंचायत माडा में एक कोरोना पॉजिटिव मामला मिलने बाद मेडिकल टीम  घर-घर जाकर स्क्रीनिंग की। साथ ही मेडिकल टीम ने ग्रामवासियों को कोरोना से बचाव करने के लिए जागरूकता बढ़ाने का भी काम किया। वही समाज सेवक व माडा गांव के उपसरपंच रमेश लबाना ने जिला कलेक्टर कानाराम से दूरभाषा (मोबाइल) के जरिए निवेदन किया की समस्त ग्रामवासियों की स्क्रीनिंग और गांव में सैनिटाइजर का छिड़काव किया जाए। जिस पर जिला कलेक्टर तत्काल मेडिकल टीम को भेज कर ग्राम वासियों की स्क्रीनिंग की गई। 

भैहणा के कुवैत में फंसे भारतीयों को वतन लाने की मांग लेकर सांसद कनकमल कटारा को दिया ज्ञापन

ख़बरINDIAतक से जुगल कलाल की रिपोर्ट✍️



ग्रामपंचायत भैहणा के ग्रामीण और सरपंच ने कुवैत में फंसे भारतीयों को वतन लाने की मांग पर सांसद कनकमल कटारा को ज्ञापन दिया है। ज्ञापन देकर दिनेश कलाल ने बताया कोरोना महामारी सभी देशों के लिए बड़ी समस्या बन गई है ऐसे में कुवैत में फंसे हजारों वागड़वासी का कुवैत में लॉकडाउन होने से रोजगार में ठप पड़ा है। लॉकडाउन के चलते रोजगार नहीं मिलने से गुजारा करने में भी बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में कुवैत में फंसे भारतीय को जल्द से जल्द अपने वतन बुलाने की गुहार लगाते ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन देते वक्त सरपंच नवली देवी,उपसरपंच कमलेश पटेल,सुरेश खराड़ी,दीपेश कलाल,रमेश पटेल आदि मौजूद रहे।

हर साल 3 जून को रांची जिले के बाराडीह गाँव मे लगने वाली विशाल पारंपरिक 'पड़हा जतरा स्थागित

डुंगरपुर 22 अप्रेल।हरिप्रकाश डामोर✍️

 रांची जिले के अन्तर्गत  बेड़ों प्रखंड के  'बाराडीह' गाँव में लगने वाली  रूढिगत  पारंपरिक व्यवस्था पर आधारित  विशाल पड़हा जतरा को 'कोरोना महामारी ' के कारण स्थगित की गईं है।

मिली जानकारी के अनुसार कार्यक्रम आयोजनकर्ताओ ने  बताया कि हर साल की भांति ये साल सिर्फ़ और सिर्फ़ पारंपरिक पूजा अनुष्ठान होगा। इसके अलावे न तो हम हजारों की संख्या में इक्ट्ठा हो पाऐगें और न ही हमारे गाॅव के पहान और न ही पड़हा राजा को सम्मानित कर पाऐगें।
इसके लिए 'पड़हा व्यवस्था समिति' क्षमा प्रार्थी हैं।
हम आशा के  साथ गाॅव के लोगों को ये वादा करते है कि आने वाला साल (2021) में सिर्फ़ झारखंड के आदिवासी नहीं बल्कि दस अनुसूची राज्य के आदिवासी सम्मलित होगें।

 यह जानकारी पड़हा संयोजक  विश्वनाथ भगत जी,  बरखा लकड़ा, प्रो. सोमरा उराॅव , भऊआ उराॅव, सोमा मुंडा, लोहरा उराॅव आदि ने दी।

Thursday, May 21, 2020

ग्राम पंचायत माडा़ में मनरेगा निर्माण के लिये दिये गये टेंडरों को निरस्त करने की मांग लेकर ज़िला कलेक्टर को दिया ज्ञापन

ख़बरINDIAतक से जुगल कलाल की रिपोर्ट✍️



 ग्राम पंचायत माड़ा अन्तर्गत 2019 में मनरेगा के तहत निर्माण कार्य किये जाने हेतु किये गये टेण्डरो को निरस्त कर पुन: टेण्डऱ की प्रक्रिया को नये सिरे से करने की मांग को लेकर ग्राम पंचायत माड़ा सरपंच लक्ष्मण डामोर व उप सरपंच रमेेश लबाना के नेतृत्व में जिला कलक्टर को सौंपा ज्ञापन।

ज्ञापन में बताया गया कि ग्राम पंचायत माडा में निर्माण कार्य हेतु जो टेण्डरो की निविदाएं हुई थी, उस निविदा का टेण्डर सांई कृपा फार्म को आवंटित हुआ था लेकिन उक्त फर्म द्वारा अभी तक निर्माण कार्य तो पुरा नहीं करवाया गया है लेकिन इन निर्माण कार्याे के लिए स्वीकृत राशि का भुगतान पूर्व में ही उठा लिया है और जब इसकी भनक नव गठित ग्राम पंचायत के कोरम को लगी तो फर्म अब विभागीय अधिकारियों से सांठगांठ कर घटिया निर्माण सामग्री का वितरण कर कार्य करवा रहा है। 
जिसको लेकर ग्रामीणों ने जिला प्रशासन को न केवल तथ्यों के साथ निष्पक्ष जांच की मांग की थी और मौके पर नरेगा अधिशाषी अभियंता व विकास अधिकारी को मौके की वस्तुस्थिति से भी अवगत करा दिया था, लेकिन इसके बावजूद कोई कार्यवाही नहीं हुई। ज्ञापन में बताया कि उक्त ठेकेदार की फर्म को वर्ष 2015 से इसी तरह टेण्डर प्रक्रिया के तहत मनरेगा में कई कार्याे के टेण्डर आवंटित हुए है। एक ही फर्म को लगातार सभी कार्याे का टेण्डऱ आवंटन तथा कार्य में घटिया निर्माण सामग्री का प्रयोग विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत का परिणाम हैं। साथ ही ज्ञापन में बताया कि फर्म का ठेकेदार पंचायत के कोरम में उप सरपंच के पद पर रहते हुए परिवार के नाम से टेण्डरों का आवंटन करवाता था और निर्माण के लिए आवंटित घटिया सामग्री को विभागीय अधिकारी कभी जांचते तक नही आये। आलम तो यह था कि काम होने से पूर्व ही अग्रिम बिल बनाकर विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत से राशि उठा ली जाती थी। वर्तमान पंचायत की कोरम ने जिला कलक्टर से विगत 5 वर्षाे में हुए सभी कार्याे की एक जांच कमेटी बैठाकर जांच करवाने की मांग की है।

एनएसयूआई ने मनाई राजीव गांधी की 29 वी पुण्यतिथि

डूंगरपुर/बिछीवाड़ा 21 अप्रेल।लोकेंद्र मोडिया✍️


एनएसयूआई जिलाध्यक्ष अरविन्द यादव के नेतृत्व में आज डूंगरपूर जिले के समस्त NSUI जिला पदाधिकारी विधानसभा अध्यक्ष छात्रसंघ प्रत्याशी एवं कार्यकर्ताओ ने कोरोना महामारी के प्रकोप डूंगरपूर जिले में बढ़ने के कारण सामूहिक कार्यक्रम नही कर अपने अपने क्षेत्र में ही पेड़ पौधे लगाकर पानी डाला ओर राजीव गांधी की पुण्यतिथि मनाई

इस अवसर पर,अरविन्द यादव ने जिला कांग्रेस कमेटी में राजीव जी के फोटो पर पुष्प चढ़ाकर विनम्र श्रद्धाजंलि अर्पित की।

डूंगरपुर विधानसभा-रमेश कोटेड,अजय कोटेड,प्रवीण भगोरा,दिलिप यादव लक्ष्मीचंद यादव भरत,मनीष,

आसपुर विधानसभा-नरेश डिण्डोर,कमलेश परमार, सुरेश डिण्डोर,देवीलाल परमार,

चोराषि विधानसभा-पंकज अहारी,राजकुमार अहारी,राजेश खाट

सागवाड़ा विधानसभा-कमलेश खराड़ी,भरत खराड़ी,पन्नालाल खराड़ी, मनोज खराड़ी, एवं जिले के तमाम NSUI के साथीयो ने पौधारोपण किया ओर राजीव गांधी जी की पुण्यतिथि मनाई।

Monday, May 18, 2020

BTS प्रदेश महासचिव मुबीसर हुसेन मकरानी ने लिखा आईजी को पत्र,महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता के साथ हुई घटना में की कार्यवाही की मांग

डूंगरपुर/बिछीवाड़ा 18 अप्रेल विकास मोडिया✍️

आगे आई बीटीएस पीड़ता को न्याय दिलाने ।

उदयपुर जिले के सेमारी  स्वास्थ्य केंद्र राठौड़ा में कार्यरत महिला स्वास्थ कार्यकर्ता श्रीमति कान्ता अहारी ने सेमारी पुलिस थानाधिकारी पर घर मे जबरन घुस अवांछित तलाशी लेने व अभद्रता करने के लगाए आरोप

यह है मामला :-

महिला स्वास्थ कार्यकर्ता के अनुसार 4 मई 2020 को शाम 6 बजे मैं अपने घर पर थी उस समय थाना अधिकारी सेमारी श्री श्याम सिंह मय जाब्ता व पंचायत समिति सेमारी BDO दो सरकारी गाड़ी भरकर मेरे घर पर आए तथा मुझे धमकाते हुए पूरे घर की तलाशी ली, मैंने इसका कारण पूछा तो, उन्होंने बताया कि तुमने यहां अपराधियो को छिपा रखा है तथा अवैध हथियार रखती हो तथा मेरे पति से धमकाते हुए अलग से पूछताछ करते रहे, ओर कह रहे थे कि तुम बाहर से आये हो,जब मैने बताया कि मेरे पति और मैं पिछले 4 माह से यहां से कही भी बाहर नही गए, फिर भी उन्होंने मेरी बात नही मानी और मेरा मोबाइल भी ले लिया तथा मुझे धमकाते हुए दूसरे दिन पुलिस थाना सेमारी जांच हेतु बुलाया।

दिनांक 5 मई 2020 को सुबह 8 बजे मैं ओर मेरे पति पुलिस थाना सेमारी गए वहां पर थाना अधिकारी उपस्थित नही थे तथा किसी अन्य पुलिस कर्मी ने हमसे धमकाकर कई कागजो पर हस्ताक्षर करवाये, जिन्हें हम पढ़ने भी नही दिया गया तथा हमने हमारा मोबाइल मांगा तो मोबाइल देने से इनकार कर दिया और कहा कि उसकी कार्यवाही अभी बाकी है। इस तरह से मुझ पर दबाव बनाया गया और परेशान किया गया।

दिनांक 12 मई 2020 को तहसीलदार राठौड़ा चौकी पर आए और मुझे चौकी पर बुलवाया, लेकिन मेने चौकी पर आने से इनकार कर दिया, इसके बाद तहसीलदार साहब मेरे उप स्वास्थ्य केंद्र पर आए और मुझे एक रिपोर्ट लिखने के लिए बोला परन्तु मेने रिपोर्ट लिखने से इनकार कर दिया, तब चौकी प्रभारी लक्ष्मण लाल जी के मोबाइल पर थाना अधिकारी सेमारी का फोन आया तब मुझे दबाव दिया गया कि आप मुझे एक दूसरी रिपोर्ट बनाकर दो तब मैं आगे कार्यवाही करूँगा इस तरह मुझ सेअलग अलग रिपोर्ट मांगी जा रही है व दबाव दिया जा रहा है।

थाना अधिकारी द्वारा बिना किसी सूचना के तथा बिना किसी विभागीय अनुमति के मेरे साथ एक अपराधियो की तरह व्यवहार किया गया, जिसके कारण मैं अभी तक सदमे में हु तथा पूरे गाँव के सामने पुलिस द्वारा मेरे साथ अपराधियों की तरह व्यवहार किया गया, जिससे पूरे गांव में मेरी बदनामी हुई तथा सभी लोग मुझे सन्देह की दृष्टि से देख रहे है।
इस घटना के बारे में महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता ने अपने कार्यालय के सीनियर अधिकारियों को भी अवगत कराया व उनके मार्फ़त प्रशासन तक अपनी पीड़ा पंहुचाई।

महिला स्वास्थ कार्यकर्ता के इस पीड़ा के संदर्भ में भीलीस्थान टाइगर सेना राजस्थान व भारतीय ट्राईबल पार्टी राजस्थान ने प्रशासनिक अधिकारियों को उचित कानूनी कार्यवाही कर पीड़ित को न्याय दिलाने हेतु ज्ञापन दिया गया।